प्यारे पथिक

जीवन ने वक्त के साहिल पर कुछ निशान छोडे हैं, यह एक प्रयास हैं उन्हें संजोने का। मुमकिन हैं लम्हे दो लम्हे में सब कुछ धूमिल हो जाए...सागर रुपी काल की लहरे हर हस्ती को मिटा दे। उम्मीद हैं कि तब भी नज़र आयेंगे ये संजोये हुए - जीवन के पदचिन्ह

Friday, November 5, 2010

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ



दीपावली के तमस-भंजक दीपों की ज्योत्सना
हर जीवन को हर्षोल्लास की आभा से जगमगा दे
मिटे सबके दुःख दर्द और दारिद्र का अँधियारा  
रिपु मन-आँगन में भी नित्य नेह के दीप जला दे

हर चौखट पर जले प्रीत के दीप
हर जन हो उल्लासित, हर मन जगमगाए
कहे सुधीर, हर पाठक को
दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ!!

7 comments:

  1. इस दीपावली के शुभ अवसर पर आपको सपरिवार हार्दिक शुभकामनायें

    ReplyDelete
  2. आपको भी सपरिवार दिपोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  3. दीपावली का ये पावन त्‍यौहार,
    जीवन में लाए खुशियां अपार।
    लक्ष्‍मी जी विराजें आपके द्वार,
    शुभकामनाएं हमारी करें स्‍वीकार।।

    ReplyDelete
  4. सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल 'समीर'

    ReplyDelete
  5. दीयों के इस पर्व दीपावली की आप को हार्दिक शुभकामनाएं
    ये दीप पर्व आपके और आपके परिजनों के जीवन को खुशियों के प्रकाश से भर कर दे

    ReplyDelete
  6. पंच-दिवसीय दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  7. दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete

Blog Widget by LinkWithin